अब लखनऊ के इस मशहूर चौराहे का नाम बदला, इतिहास से छेड़छाड़ जारी

कुछ लोगों का मानना है की जब से ये सरकार सत्ता में आयी है इसने कुछ ख़ास काम नहीं किया है| अब तक इस सरकार ने काम के नाम पर सिर्फ पुरानी यौजना जो पिछली सरकार की थी उनका उद्द्घतन किया है और कई जगहों और योजनाओं के नाम बदले हैं| अब देखना ये होगा की भारत की जनता इस सरकार को 2019 के चुनावों में कितने नंबर देते है|

हजरतगंज चौराहा का नाम बदलने का कारण

लखनऊ का प्रशिद्ध और एतिहासिक चौराहा हजरतगंज चौराहा जिसे हम सब हजरतगंज चौराहा के नाम से जानते हैं| लेकिन आज के बाद यह नाम अब दूसरे नाम में बदल जायेगा| इसे बदलने के लिए सरकार को बहुत जोर देना पड़ा है| लेकिन सरकार ने यह कदम बहुत सोच समझकर लेना पड़ा है| अब लखनऊ नगर निगम के सदन में इसका प्रस्ताव रखा जायेगा की. हजरतगंज चौराहा को अटल विहारी चौराहा के नाम से जाना जाये| इसके लिए सबकी सहमति भी जताई गई है|

वैसे तो लखनऊ के हजरत गंज चौराहा का नाम ठीक था| लेकिन जैसा की आप सभी जानते हैं कुछ दिनों पूर्व भारत के एक महान रत्न अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हो गया है| इसलिए भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उनकी याद को हमेशा के लिए यादगार बनाने के लिए| लखनऊ के हजरतगंज चौराहा का नाम अटल बिहारी चौराहा कर दिया है|

हजरतगंज चौराहा हुआ अटल चौराहा

इसके लिए न केवल भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने सहमत हैं| बल्कि भारत के और भी अन्य दिग्गज नेता एवं भारत की सारी जनता भी यही चाहती थी| की स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी की याद को हमेशा वरकरार रखने के लिए| कोई ऐसा कदम उठाया जाये की वे हमेशा ही हमारी आँखों के सामने रहे|

इसे लेकर भारत की जनता ने भी अपनी भारी सहमति जताई, और भारत की एतिहासिक जगहों में से एक हजरतगंज चौराहा को ही मोदी जी ने इसके लिए चुना, और परिणाम स्वरुप उस चौराहे का नाम आज से अटल बिहारी चौराहा कर दिया गया| इसके लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी भी अपनी संतुस्टी जताते हैं| और अपने छेत्र उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हजरतगंज का नाम बदलकर अटल बिहारी वाजपेयी कर दिया गया है|

Facebook Comments