इस्लाम धर्म से ख़ारिज निदा खान के पति को नमाज़ पड़ने वालों ने मस्जिद से बहार निकला

निदा खान जो की मुहल्ला शाहदाना निवासी मुर्सरफ यार खान की बेटी है| निदा खान का निकाह 2015 को शहर के मशहूर खानदान के उस्मान खान के बेटे शीरान रजा खान से हुआ था| निदा खान को इस्लाम धर्म से ख़ारिज कर दिया गया था|हजरत हेल्पिंग सोसाइटी की अध्यक्ष निदा खान के पिता को नमाज पड़ने वालों ने शुक्रवार को मस्जिद से बाहर कर दिया| निदा का आरोप है कि मस्जिद इमाम ने फतवे को मानते हुए पिता को नमाज पढ़ने से रोका गया है। भीड़ को उकसाकर माहौल बिगाड़ने की कोशिश भी की गई है|

निदा खान के पिता को नमाज पड़ने से रोका

यह मामला बरेली के थाना बारादरी छेत्र का है| ऐसा बताया जा रहा है की निदा खान के पिता मुर्सरफ यार खान शहदाना वली दरगाह स्थित मस्जिद में जुमे की नमाज पड़ने के लिए गए थे| जैसे से ही वे मस्जिद में पहुंचे और नमाज पड़ना चालू किया, उसी समय और नमाजियों ने फतवे का जिक्र चालू कर दिया|

ऐसा चलते एक नमाज पड़ने वाले ने दुसरे नमाजियों से पुछा की इस्लाम से खारिज होने वाले परिवार को मस्जिद में नमाज के लिए इजाजत नहीं दी जाती है|उनकी इस बात को लेकर निदा के पिता से यह सुना नहीं गया और उन्होंने भी अपनी आपत्ति जताई|

मैंने मेरा हक़ माँगा है: निदा

तीन तलाक पीड़िता को चलते हुए आला हजरत हेल्पिंग सोसाईटी की अध्यक्ष निदा खान तीन तलाक और हलाला पीड़िताओं के लिए लड़ाई लड़ रही है।

निदा को कई बार धमकियां भी मिली हैं| जिसके चलते पुलिस प्रशासन द्वारा निदा की सुरक्षा बड़ा दी गई है| निदा का कहना है की मैंने शरीयत के खिलाफ आवाज़ नहीं उठाई बल्कि  में सिर्फ मेरा हक़ मांग रही हूँ| और जबसे मुझे इस्ल;आं से ख़ारिज किया है| सबसे मेरे प्रति बहुत सी साजिशें रची जा रही हैं|

कुछ लोग मेरे हक़ को लेकर मेरे हक़ लेने का भी विरोध कर रहे हैं| उन लोगों ने इस मामले को इतना भयंकर रूप दे दिया की उसका ऋण मुझे चुकाना पद रहा है|

Facebook Comments